ऑस्ट्रेलिया बनाम इंडिया तीसरे वनडे में टीम इंडिया ने शानदार तरीके से मैं जीत कर सीरीज अपने नाम कर लिया और कई इतिहास भी रच दिए इस बीच में सबसे बड़ा योगदान रहा पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी का जिन्होंने शानदार बल्लेबाजी करते हुए मैच को खत्म करके आए उनका बखूबी साथ देते हुए ऑस्ट्रेलिया में पहले मैच खेल रहे केदार जाधव अपने भी शानदार खेल दिखाया है।


                     

पहले टेस्ट सीरीज में 21 से ऑस्ट्रेलिया को हराकर फिर वनडे सीरीज में भी 10 से पिछड़ कर फिर 21 से सीरीज में टीम इंडिया के लिए वाकई काबिले तारीफ है लेकिन इस मैच को इन 5 खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से टीम इंडिया को जीत दिलाए है।


तीसरे वनडे के टॉप 5 परफॉर्मेंस



महेंद्र सिंह धोनी



                          Ms dhoni

महेंद्र सिंह धोनी को इस सीरीज से पहले काफी सवाल उठ रहे थे कि धोनी की बल्लेबाजी के कारण टीम इंडिया को काफी मैच गांव आना पड़ रहा है लेकिन धोनी ने इस सीरीज में दिखा दिया कि उनका फॉर्म टेंपरेरी और उनका क्लास से परमानेंट यानी ना सिर्फ धोनी ने शानदार बल्लेबाजी की बल्कि कंसिस्टेंट तीनों मैच में रन बनाए हैं।


तीसरे वनडे में तो धोनी ने सबसे मैच विनिंग पारी खेली है हालांकि उनका स्ट्राइक रेट पहले के मुकाबले कम है लेकिन जितने भी पारी खेली है इस सीरीज में तीनों में धोनी की पारी में जिताऊ पारी रही है।

तीसरे वनडे में धोनी ने 41 गेंदों पर 87 रन की पारी खेली इस पारी में उन्होंने सिर्फ छह चौके लगाए और उनका स्ट्राइक रेट 76 का।

धोनी के फॉर्म में आना टीम इंडिया के लिए खुशी की बात है क्योंकि आने वाले न्यूजीलैंड दौरे के लिए और वर्ल्ड कप के लिए धोनी एक बेहद अहम खिलाड़ी टीम इंडिया के लिए साबित हो सकते हैं।



यूज़वेंद्र चहल



                     Yuzevendra chahel


युजवेंद्र चहल टीम इंडिया के लिए उन खिलाड़ियों में से हैं जो अपने प्रदर्शन के बलबूते पर कभी भी किसी भी मैच को जीता सकते हैं तीसरे वनडे में भी चहल ने शानदार प्रदर्शन किया उनकी गेंदों को समझ पाना ऑस्ट्रेलिया बल्लेबाजों के लिए बेहद मुश्किल हो रहा था।

तीसरे वनडे में 10 ओवर में 42 रन देकर 6 विकेट लिए यह किसी भी स्पिनर दौरा ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन है खासकर चहल पिछले कई मैचों में टीम से बाहर चल रहे थे।

लेकिन उनकी प्रदर्शन के चलते नहीं टीम की स्टेबल करने के लिए उनको बाहर रखा जाता था लेकिन दूसरे वनडे में कुलदीप यादव की पिटाई होने पर तीसरे वनडे में उन्हें मौका दिया गया और उन्होंने बता दिया कि वह भी कुलदीप यादव से कम नहीं है।


चहल की खास बात यह है कि उनका वेरिएशन वह किसी भी पिच पर किसी भी अपोजिशन के खिलाफ प्रदर्शन करने की काबिलियत रखते हैं उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी दिखाया।


केदार जाधव



                     Keedar jadav



केदार जाधव टीम इंडिया के लिए एक बेहद अहम खिलाड़ी है उन्होंने हर मैच में साबित किया है लेकिन बीच में खराब प्रदर्शन के चलते उनको टीम से ड्रॉप किया गया था।

लेकिन टीम इंडिया और टीम मैनेजमेंट को केदार जाधव पर बेहद भरोसा है केदार जाधव विराट कोहली के भी पसंदीदा खिलाड़ी है वैसे किधर ज्यादा तो टेक्निकली उतना साउंड नहीं है लेकिन जितने भी बल्लेबाजी करते हैं उनका बल्लेबाजी देखने लायक होता है और बहुत ही अफेक्ट एक होता है और जो भी पारी खेलते हैं और टीम इंडिया के लिए बेहद प्रभावशाली होती है और टीम इंडिया को जीत दिलाते है।

तीसरे वनडे में भी टीम इंडिया को जब जरूरत थी विराट कोहली जैसे आउट हुए तो सबको लग रहा था कि टीम इंडिया यहां पर फंस सकती थी लेकिन महेंद्र सिंह धोनी का साथ देते हुए केदार जाधव ने संदर बल्लेबाजी की और महेंद्र सिंह धोनी के साथ एक अच्छी पार्टनरशिप बनाए रखी जिसके चलते टीम इंडिया ने आसानी से इस रंग को चेंज कर लिया।

तीसरे वनडे में केदार जाधव ने 57 गेंदों पर 108 रनों की पारी खेली जहां उनका स्ट्राइक रेट था 107 का और उन्होंने इस पारी में 7 चौके लगाए उनका स्ट्राइक रेट के चलते धोनी के ऊपर भी दबाव नहीं आया और धोनी भी अच्छे से बल्लेबाजी कर रहे थे।